गाय को हरा चारा खिलाने से दूर होगी ग्रह दोष पीड़ा

0
395

यदि आपकों इन दिनों परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, व्यापार मंदा हो, घर में पैसा टिकता नहीं, बीमारियों का सामना करना पड़ रहा है या फिर आए दिन पारिवारिक कलेश के कारण घर की शांति भंग हो गई है, तो कारण ग्रह दोष पीड़ा भी हो सकता है। यह बात सर्वमान्य है कि गाय में सभी देवी-देवताओं का निवास हैं। ऐसे में यदि आप प्रत्येक बुधवार व शनिवार को नियमित रूप से गाय का हरा चारा खिलाते है तो सारी समस्याएं समाप्त हो जाएंगी और आपके जीवन में खुशहाली का संचार होगा। ध्यान रहे गाय को हरा चारा खिलाने का यह प्रयोग आपको कम से कम तीन महीने तक करना है और इसे आगे भी जारी रखते हैं तो जीवन सुख-समृद्वि से भरपूर बन सकेगा।

Also Read : मोर पंख लगाकर करें असंभव कार्य को भी संभव

शास़्त्रों में कुछ ऐसे बिन्दू बताए गए है कि जिनके माध्यम से घर से निकलते वक्त ही आप समझ सकते है कि आपका दिन कैसा रहेगा।

यदि आप किसी महत्वपूर्ण कार्य से बाहर जा रहे हैं और सामने गाय आ जाए, तो उस समय कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। इन्हें जीवन में अपनाने से आपकी कई परेशानियां समाप्त हो जाएगी तथा ग्रह दोष पीडा दूर हो जाएगी।

Also Read : महिलाएं वास्तु की इन टिप्स का फॉलों करें, घर में आएगी खुशहाली

सभी शास्त्रों में गाय को पूजनीय और पवित्र माना गया है। ऐसा माना जाता है कि गाय के शरीर में 33 कोटि देवी-देवता विराजमान होते हैं। जब भी गाय दिखाई दे तो उसकी पीठ पर हाथ फेरना चाहिए। गाय को सहलाने से वह प्रसन्न होती है तो इससे हमारे कई ग्रह दोष समाप्त हो जाते हैं।

  • गाय को प्रतिदिन सहलाने मात्र से असाध्य बीमारियां भी दूर हो जाती है। ऐसा प्रयोग कम से कम 12 माह तक करना आवश्यक है।
  • कहीं जाते समय रास्ते में गाय मिल जाएं तो उसे अपने दाहिनी ओर निकालना चाहिए। ऐसा करने पर गाय की परिक्रमा हो जाती है। जिससे अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है।

Also Read : कपूर के इस उपाय से आप बनेंगे मालामाल

  • शास्त्रों में बताया गया है कि जिस घर में गाय रहती है या जो व्यक्ति गाय की सेवा करता है उसकी सभी परेशानियां दूर हो जाती है।
  • गौसेवा से कितना लाभ होता है इस बात की पुष्टि श्रीकृष्ण के जीवन से हो जाती है। भगवान श्रीकृष्ण गोपाल बने, क्योंकि उन्होंने गौ सेवा का संकल्प लिया तथा गौ सेवा का महत्व बताया।
  • ज्योतिष शास्त्र में भी नवग्रहों के अशुभ प्रभाव से मुक्ति के लिए गौ सेवा का वर्णन किया गया है।

Also Read :

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here