डिनर करने में कहीं आप भी तो नहीं कर रहे हैं ये गलती, ऐसे बरतें सावधानियां

0
386
Dinner Photo_pixabay

यदि आपकी दिनचर्या ठीक नहीं है और आप समय पर भोजन और नाश्ता नहीं कर रहे हैं तो आने वाले दिनों में आपको कई तरह की शारीरिक समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। सुबह उठने के बाद दो घंटे के अंदर नाश्ता हो जाना चाहिए। कई बार ऐसा होता है कि काम में व्यस्त रहने के कारण हम नाश्ता व भोजन को इग्नोर करते रहते हैं या कहिए कि समय पर नहीं करते। इससे डायबिटिज सहित कई तरह की बीमारियां होने की आशंका रहती है। शरीर को चुस्त-दुरस्त करने के लिए सुबह का टहलना, हल्का व्यायाम के बाद नाश्ता करना अनिवार्य है। इससे शरीर में बर्न हुई कैलोरी की पूर्ति होती है।

यह भी पढ़ें : गंजेपन से छूटकारा पाने के 5 अचूक उपाय

हर दिन यदि पाचन की समस्या है, पेट में दर्द, कब्ज, सीने में जलन और खाने के बाद थकान हो तो हो सकता है कि आपके डिनर का समय ठीक नहीं हो। जितना जरूरी यह समझना है कि क्या खाया जा रहा है, उतना ही अहम इसका समय भी है। नाश्ता और लंच तो हम समय पर कर ही लेते हैं, लेकिन डिनर में खराब जीवनशैली आड़े आ जाती हैं।

यह भी पढ़ें : जंक फूड खाने से बचें, सेहत को ये हैं नुकसान

कई बार डिनर आधी रात को होता है। मेडिकल साइंस के मुताबिक खाना किसी भी समय खाया हो, उसके तीन घंटे बाद सोना चाहिए। क्योंकि इससे खाना पच जाता है और वजन नहीं बढ़ता है। भले ही कोई आधी रात को या इसके बाद खाना हो, लेकिन कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए।

यह भी पढ़ेंः राशि के अनुसार अपनाएं ये उपाय, चमक उठेगा कारोबार

इन्हें ध्यान में रखकर करना चाहिए भोजन

  • नाश्ता किसी भी हालत में सुबह 8 बजे हो जाए।
  • नाश्ता और लंच में 3-4 घंटे का अंतर होना चाहिए।
  • किसी भी सूरत में लंच दोपहर 2 बजे तक हो ही जाना चाहिए।
  • डिनर और सोने के समय में तीन घंटे का अंतर रखें
  • कोशिश कीजिए कि डिनर किसी भी स्थिति में रात दस बजे के बाद न हो।
  • यदि खाना खाने के तुरंत बाद ही सो गए तो आपकी नींद अच्छी नहीं होगी।

यह भी पढ़ें : कोक के पूर्व अधिकारी का सनसनीखेज खुलासा “प्यासे रह जाना पर कोका कोला कभी मत पीना”

डिनर क्यों कर लेना चाहिए जल्दी

  • क्योंकि लोग रात को अधिक एक्टिव नहीं रहते हैं
  • जो वजन कम करना चाहते हैं, उन्हें सात बजे तक डिनर खा लेना चाहिए।
  • जितनी देर से खाना, यानी उतनी एक्स्ट्ार् कैलोरी, जो शरीर में फैट बढ़ाएगी।
  • खाते ही सो जाने से ब्लड शुगर और इंसुलिन बढ़ सकता है, जो नींद को खराब कर देगा।
  • खाते ही सो जाने से कई परेशानियां होंगी, इसमें प्रमुख है एसिड रिफल्क्स।

यह भी पढ़ें : अंगूर खाने से ये 8 फायदे मिलते हैं आपको, आज से ही शुरू करें खाना

क्या खाएं और कब खाएं

कई रिसर्च ये बताती है कि ऐसे कई आहार हैं, जो शाम 8 से रात 10 बजे तक वर्जित हैं। रात को फलों का सेवन नहीं करना चाहिए। अधिक तला और गरिष्ठ भोजन करने से बचना चाहिए। लेकिन अधिकांश लोग रात्रि 9 से 10 बजे भोजन करते हैं। यदि आपको खाने में देर भी हो रही है तो किसी भी तरह डिनर को छोड़ना नहीं है। ताजा सूप जितना अधिक लेंगे, खाना कम खाएंगे। यहां एक चार्ट में बताया जा रहा है कि देर रात क्या खाया जा सकता है।

यह भी पढ़ेंः कम पूंजी से शुरू करें ये 10 बिज़नेस, पाएं हर महीने लाखों रूपए कमाने का मौका

7-9 बजे के बीच हो तो

इसमें रोटी, सब्जी, दाल, चावल खा सकते हैं, सूप और स्टफ्ट पराठा।

9-11 बजे के बीच हो तो

ताजा सूप, खिचड़ी के साथ, सूप के साथ किनोआ, सब्जियों के साथ, सूप के साथ दाल-चीला, सूप के साथ 2 वेज टोस्ट सेंडविच

रात 11 बजे के बाद हो तो

गेहूं पास्ता सलाद या हल्का भुना पनीर, सूप के साथ मक्खन में भुनी सब्जियां, सूप के स्टीम की हुई सलाद या दलियां सूप के साथ उपमा।

यह भी पढ़ेंः जानिए इंटरनेट से पैसे कमाने के तरीके, घर बैठे कमाएं हर महीने लाखों रूपए

ये गलती न करें

  • पेट भरकर न खाएं। कुछ जगह पेट में छोड़ें ताकि पाचक रस बनते रहे।
  • खाना खाते हुए टीवी देखना या पढ़ना बंद करें, ऐसे में पाचन खराब होगा।
  • तनाव रहित होकर भोजन करें।
  • भोजन करते समय इधर-उधर की फालतू की बातें न करें।

Also Read :

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here