नोटबंदी का असर आपकी सैलरी इंक्रीमेंट पर भी देगा दिखाई, एक दशक में सबसे कम बढ़ेगी इस बार सैलरी

0
141

नई दिल्ली: नोटबंदी का असर अभी तक आपने कारोबार व अन्य लेन-देन में देखा होगा। लेकिन अब यह नोटबंदी का असर आपकी सैलरी इंक्रीमेंट में भी दिखाई दे सकता है। एक सर्वे रिपोर्ट की मानें तो पिछले एक दशक में सबसे कम इंक्रीमेंट 2017 में लगेगा।

एऑन हेविट की सर्वे रिपोर्ट में यह भी दावा किया जा रहा है कि अनेक कंपनियां इस बार सैलरी इंक्रीमेंट योजना को ठंडे बस्ते में डाल सकती है। इससे सैलरी बढ़ोतरी की आस लगाए बैठे कर्मचारियों को झटका लगना स्वाभाविक है।

इस सर्वे में बताया गया है कि पिछले साल के मुकाबले इस वित्त वर्ष 2017 में लोगों की सैलरी में औसतन कुल 9.5 प्रतिशत की ही बढ़ोतरी होगी, जबकि वित्तीय वर्ष 2016 में सैलरी में 10.2 प्रतिशत तथा वर्ष 2015 में 10.6 प्रतिशत सैलरी की बढ़ोतरी हुई।

इस तरह देखा जाए तो इस वर्ष इंक्रीमेंट काफी कम लगेगा। इस सर्वे में यह भी बताया गया है कि वित्तीय वर्ष 2017 में कंज्यूमर इंटरनेट सेक्टर कर्मचारियों की सैलरी सबसे ज्यादा बढ़ने का अनुमान है। कंज्यूमर, इंटरनेट सेक्टर में करीब 12.4 प्रतिशत, लाइफ साइंसेज सेक्टर में 11.3 प्रतिशत, प्रोफेशनल सर्विसेज सेक्टर में 10.9, केमिकल सेक्टर में 10.3 प्रतिशत, एंटरटेनमेंट मीडिया में 10.3 प्रतिशत, ऑटोमोटिव सेक्टर में 10.3 प्रतिशत तथा कंज्यूमर प्रोटेक्ट सेक्टर में 10.2 प्रतिशत की दर से सैलरी बढ़ने की संभावना है।

एऑन हेविट ने पिछले साल के मुकाबले इस बार सैलरी दर में एक प्रतिशत की गिरावट होने की आशंका जताई है। उन्होंने इसके पीछे नोटबंदी को बताया है।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here