ये है दुनिया के सबसे अधिक धनी और खुशहाल देश, जहां बरसता है पैसा

0
372
ये है दुनिया के सबसे अधिक धनी और खुशहाल देश, जहां बरसता है पैसा
Qatar

नई दिल्ली : पूरी दूनिया में सबसे शक्तिशाली और ताकतवर देश अमेरिका है। आमतौर पर यह माना जाता है कि अमेरिका ही दुनिया का सबसे धनी और खुशहाल देश है। इसी कारण इस देश के लिए वीजा मांगने वालों की लिस्ट भी काफी लंबी है। वीजा के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ती है। लेकिन ऐसा नहीं है वर्ष 2016 में प्रति व्यक्ति आय के आधार पर जारी की गई लिस्ट के आधार पर दुनिया का सबसे धनी और खुशहाल देश का दर्जा कतर को दिया गया है। इस लिस्ट में कतर पहले नंबर है, जबकि अमेरिका को 13वें नंबर पर संतोष करना पड़ा है।

यह भी पढ़ेंः कम पूंजी से शुरू करें ये 10 बिज़नेस, पाएं हर महीने लाखों रूपए कमाने का मौका

उल्लेखनीय है कि इंटरनेशनल मॉनिटरिंग फंड (आइएमएफ) द्वारा जारी सूची के अनुसार कतर में रहने वाले लोग सबसे ज्‍यादा खुशहाल है. वहीं, यहां रहने वालों की प्रति व्‍यक्ति आय 87 लाख रुपए से अधिक है। दुनिया में सबसे अमीर देश कतर की कुल आबादी 2.169 करोड़ है। पेट्रोल निर्यात से कतर की कमाई करीब 85 फीसदी होती है। इसके अलावा पर्यटन और बैंकिंग से भी कतर बहुत रुपया कमाता है। कतर के पर्यटन स्थलों की सैर करने के लिए दुनियाभर के लाखां की संख्या में पर्यटक हर वर्ष यहां आते है। पेट्रोल के अलावा पर्यटकां से होने वाली आय भी यहां की समृद्वि का मुख्य कारण है। पर्यटकां की सुरक्षा को लेकर यहां विशेष इंतजाम किए गए है। पर्यटकां से दुव्यवहार किए जाने पर कठोर दंड का प्रावधान है।

यह भी पढ़ेंः जानिए इंटरनेट से पैसे कमाने के तरीके, घर बैठे कमाएं हर महीने लाखों रूपए

जहाँ तक अन्य देशों की बात है तो लक्‍जमबर्ग दूसरे नंबर पर है। इसे ‘करों का स्वर्ग’ देश भी कहा जाता है। जबकि मकाऊ को हांगकांग की तर्ज पर चीन ने विशेष प्रशासनिक क्षेत्र बना लिया है। यहां प्रति व्यक्ति सालाना आय है 96,148 डॉलर (करीब 64 लाख रुपए) है। अमीर देशों की सूची में सिंगापुर चौथे नंबर पर है। यहां लोगों की प्रति व्यक्ति सालाना आय 87,082 डॉलर (करीब 58 लाख रुपए) है। जबकि अमीर देशों की इस सूची में ब्रुनेई पांचवें नंबर पर है।पांच लाख से भी कम आबादी वाले इस देश में प्रति व्यक्ति सालाना आय 79,711 डॉलर (करीब 53 लाख रुपए) है।

यह भी पढ़ेंः एम्प्लॉइज को प्रेरित करने के लिए वर्कप्लेस पर लगाएं ये प्रेरणादायी कथन

कुवैत छठा सबसे अमीर देश है। यहां प्रति व्यक्ति सालाना आय 71,264 डॉलर (करीब 48 लाख रुपए) है। उत्‍तर-पश्चिमी यूरोपीय महाद्वीप के छोटे से देश आयरलैंड इस सूची में सातवें नम्बर पर है। यहां प्रति व्यक्ति सालाना आय 69,375 डॉलर (करीब 46 लाख रुपए) है। अमीर देशों की की सूची में नार्वे ने आठवे नम्बर पर जगह बनाई है। इस देश की प्रति व्‍यक्ति सालाना आय 69,296 डॉलर (करीब 46 लाख रुपए) है और अंतिम देश संयुक्त अरब अमीरात नवैं नम्बर पर है। इस देश की प्रति व्यक्ति सालाना आय 67,696 डॉलर (लगभग 45 लाख रुपए) है।

यह भी पढ़ेंः बिजनेस को सफल बनाने के लिए ऐसे बनें कॉन्फिडेंट लीडर

टॉप टेन में शामिल होना भारत के लिए सपना जैसा

दुनिया के धनी और खुशहाल देशों की लिस्ट में शामिल होना भारत के लिए सपने जैसा है। दुनिया में अभी भारत को गरीबी और विकासशील देश के लिए तौर पर जाना जाता है। भारत में व्याप्त गरीबी और बेरोजगारी जैसी समस्याओं को जड़ से खत्म किए बिना इस लक्ष्य को प्राप्त करना काफी कठिन है। भारत में अमीर और गरीब के बीच बनी गहरी खाई दिनोंदिन बढ़ती जा रही है। नैतिक मूल्यों का हनन हो रहा है। आपस में वैमनस्य बढ़ रहा है।

यह भी पढ़ेंः ये पौधा चुम्बक की तरह आकर्षित करता है पैसे को, एक बार आजमाकर देखों

भारत जो कभी पूरी दुनिया में सोने की चिड़िया और खुशहाली के लिए जाना जाता था। आज अपना पुराना वैभव खो चुका है। यह सही है कि इसे विदेशी आक्रांताओं ने जमकर लूटा और लाखों टन सोना लूटकर अपने साथ ले गए। यह विदेशी आक्रांता न केवल देश का सोना लूटकर लेकर बल्कि लोगों की खुशहाली को लूटकर भी ले गए।

यह भी पढ़ेंःराशि के अनुसार अपनाएं ये उपाय, चमक उठेगा कारोबार

ये है दुनिया के टॉप धनी और खुशहाल देश

1. कतर (प्रति व्‍यक्ति आय 87 लाख रुपए)
2. लक्‍जमबग (प्रति व्‍यक्ति आय 74 लाख रुपए)
3. मकाऊ (प्रति व्‍यक्ति आय 64 लाख रुपए)
4. सिंगापुर (प्रति व्‍यक्ति आय 58 लाख रुपए)
5. ब्रुनेई (प्रति व्‍यक्ति आय 53 लाख रुपए)
6. कुवैत (प्रति व्‍यक्ति आय 48 लाख रुपए)
7. आयरलैंड (प्रति व्‍यक्ति आय 46 लाख रुपए)
8. नार्वे (प्रति व्‍यक्ति आय 45.8 लाख रुपए)
9. संयुक्त अरब अमीरात (प्रति व्‍यक्ति आय 45 लाख रुपए)

Also Read :

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here