Happy Birthday PM Narendra Modi: नरेंद्र मोदी के जीवन से जुड़ी 10 अनसुनी बातें

    - Advertisement -

    भारत के 14वें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi Birthday) का 17 सितंबर काे 71वां जन्मदिन हैं। देश-दुनिया में उनका जन्मदिन उत्साहपूर्वक मनाया जा रहा है। PM मोदी दुनिया के ऐसे सबसे बड़े नेता है, जिनकी सोशल मीडिया पर फैन फॉलोविंग सबसे ज्यादा है। पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Damodardas Modi) का जन्म 17 सितंबर 1950 को गुजरात के वडनगर (Vadnagar) में हुआ। उनके पिता का नाम दामोदार दास मूलचंद मोदी तथा मां का नाम हीराबेन है। नरेंद्र मोदी 5 भाई-बहनों में दूसरे नंबर की संतान है।

    बता दें कि PM मोदी की गिनती आज दुनिया के सबसे प्रभावशाली व सशक्त नेताओं में होती है। PM मोदी ने अपने कार्यकाल में अब तक जितने भी ठोस फैसले लिए, वो पूरी दुनिया को हैरान करने वाले थे। वो फिर चाहे धारा 370 को समाप्त करना हो, राम मंदिर का निर्माण या फिर नोटबंदी, तीन तलाक, सर्जिकल स्ट्राइक, एयर स्ट्राइक जैसे कठोर निर्णय से देशभक्त उनके मुरीद हो गए। आज जब दुनियाभर से PM मोदी को जन्मदिन की बधाइयां मिल रही है। ऐसे में हम आपको उनसे जुड़ी 10 अनसुनी बातें बताने जा रहे हैं।

    यह भी पढ़ें : Shala Darpan: Login and registration | rajshaladarpan.nic.in portal | ShalaDarpan

    PM Narendra Modi से जुड़ी 10 अनसुनी बातें

    1. नरेंद्र मोदी देश के पहले ऐसे प्रधानमंत्री है, जिनका जन्म स्वतंत्र भारत में हुआ। इनसे पहले जितने भी प्रधानमंत्री थे, सबका जन्म देश की आजादी से पहले हुआ था। यह भी एक रिकॉर्ड है।
    2. बचपन में नरेंद्र मोदी को नरिया कहकर बुलाया जाता था। पीएम मोदी के पिता की रेलवे स्टेशन पर चाय की दुकान थी। कहा जाता हैं 1965 में भारत-पाक युद्व के दौरान स्टेशन से गुजरने वाली ट्रेनों में मोदी ने सैनिकों को चाय पिलाई थी। वहीं से उनमें देशभक्ति की भावना प्रबल हुई।
    3. नरेंद्र मोदी का विवाह महज 18 साल की उम्र में बांसकाठा जिले के राजोसाना गांव में रहने वाली जसोदा बेन से करा दिया गया था। लेकिन उनका गौना नहीं हुआ।
    4. इंदिरा गांधी द्वारा देश में लगाए गए आपात काल के दौरान नरेंद्र मोदी डेढ़ साल तक सरदार का रूप धरकर पुलिस को छकाते रहे।
    5. पीएम मोदी शुरू से साधु-संतों से बेहद प्रभावित रहे। वे साधु बनना चाहते थे। इसलिए वे रामकृष्ण मिशन भी जुडे़। उन्होंने अपने जीवन के दो साल हिमालय में सेवा-साधना में गुजारे। बाद में वे संघ की विचारधारा से प्रभावित होकर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जुडे़।
    6. नरेंद्र मोदी अपने आधिकारिक आवास को अपने परिवार के किसी सदस्य के साथ शेयर नहीं करते। यानी वे प्रधानमंत्री आवास में अकेले ही रहते हैं। इससे पहले जब वे गुजरात के मुख्यमंत्री थे। तब भी मुख्यमंत्री आवास में अकेले ही रहा करते थे।
    7. नरेंद्र मोदी जब पहली बार गुजरात के मुख्यमंत्री बने, तब उनकी मां हीराबेन ने उनसे कहा था-बेटा कदी लांच ना लेइस।- यानी बेटा कभी रिश्वत मत लेना।
    8. साल 2005 में अमेरिका ने पीएम मोदी को वीजा देने से इनकार कर दिया था। कारण वे गुजरात के मुख्यमंत्री रहते वर्ष 2002 में वहां हुई सांप्रदायिक हिंसा रोकने में असफल रहे।
    9. बहुत कम लोग जानते हैं कि पीएम मोदी ने सीएम और पीएम रहते 12 किताबें लिखी है। इनमें कनवीनिएंट एक्शन, ए जर्नी, पोइम्स बाड़ नरेंद्र मोदी, साक्षी भाव, एग्जाम वॉरियर्स, ज्योति पुंज, सोशल हार्मोनी आदि प्रमुख है।
    10. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने जीवन में कभी शराब व सिगरेट को हाथ तक नहीं लगाया। वे रोजाना सुबह 5 बजे उठ जाते हैं। रोजाना सुबह योगासन व प्राणायाम करना उनकी दिनचर्या में शामिल है।
    - Advertisement -
    News Posthttps://www.newspost.in
    हिन्दी समाचार, News in Hindi, हिन्दी न्यूज़, ताजा समाचार, राशिफल, News Trend. हिन्दी समाचार, Latest News in Hindi, न्यूज़, Samachar in Hindi, News Trend, Hindi News, Trend News, trending news, Political News, आज का राशिफल, Aaj Ka Rashifal, News Today

    Latest news

    - Advertisement -

    Related news

    - Advertisement -

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    ollhmtn05epenfp1yuply4cg5bx3sd