सपा छोड़ भाजपा में शामिल हुए नरेश अग्रवाल, कहा सपा ने नाचनेवाली के कारण काटा मेरा टिकट

0
403
सपा छोड़ भाजपा में शामिल हुए नरेश अग्रवाल
Naresh-Agrawal Image Source: ANI

नई दिल्ली : समाजवादी पार्टी से राज्यसभा सांसद नरेश अग्रवाल सोमवार को सपा का दामन छोड़ भाजपा में शामिल हो गए। अपने बयानों से अक्सर विवादों में रहने वाले नरेश ने भाजपा ज्वानिंग करते ही जया बच्चन को नाचनेवाली बताकर एक नया विवाद खड़ा कर दिया है। हालांकि भाजपा की वरिष्ठ नेता सुषमा स्वराज ने इसके लिए रामनरेश को डांट भी पिलाई है।

भाजपा ने नरेश अग्रवाल के इस बयान से स्वयं को अलग कर लिया है। पार्टी के राष्ट््रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा है कि उनकी पार्टी सभी क्षेत्रों के लोगों का सम्मान करती है। और राजनीति में उनका स्वागत करती है। पार्टी नेता सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर नरेश अग्रवाल के बयान की तीखी आलोचना की।

यह भी पढ़ें : जिंदगी में आगे बढ़ने के लिए अपनाएं सफल लोगों की आदतें

बता दें कि समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने रामनरेश अग्रवाल का राज्यसभा टिकट काटकर जया बच्चन को दे दिया। इससे नाराज सपा के इस वरिष्ठ नेता ने अपने विधायक पुत्र नितिन अग्रवाल व समर्थकों के साथ भाजपा का दामन थाम लिया। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने उन्हें पार्टी की सदस्यता ग्रहण कराई। गौरतलब है कि अग्रवाल का राज्यसभा का कार्यकाल 23 मार्च को समाप्त हो रहा है। पार्टी ने उन्हें इस बार राज्यसभा का उम्मीद्वार बनाने से इनकार कर दिया। अपने 30 साल के राजनीतिक जीवन में नरेश अग्रवाल एक दर्जन से अधिक बार पार्टी बदल चुके हैं।

भाजपा ज्वानिंग करते हुए सपा सांसद नरेश अग्रवाल के सूर बदल गए। उन्होंने कहा कि आज मैं बीजेपी में शामिल हो रहा हूं और मैं समझता हूं जब तक राष्ट््रीय पार्टी में शामिल नहीं रहे तब तक राष्ट््र की सेवा नहीं की जा सकती। इसलिए मैं बीजेपी में शामिल हुआ हूं। मैं पीएम मोदीजी और सीएम योगीजी से प्रभावित हूं। पीएम मोदी के काम से देश का पूरे विश्व में मान बढ़ा है।

यह भी पढ़ें : एक्टर एजाज खान ने हिन्दू महिला को दी गंदी गाली, फिर जो हुआ…

भाजपा मुख्यालय पर सदस्यता ग्रहण करने के बाद संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए नरेश अग्रवाल ने कहा कि “फिल्मों में काम करने वाली से मुझे कमतर आंका गया है। ऐसे व्यक्ति के लिए मुझे टिकट नहीं दिया गया जो फिल्मों में नाचती है। फिल्मों में काम करती है। मैं इसे उचित नहीं मानता।”

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में सपा का जनाधार कमजोर हुआ है। मैं बिना किसी शर्त के आज भाजपा में शामिल हुआ हूं। राज्यसभा चुनावों में मेरा विधायक बेटा भाजपा के पक्ष में मतदान करेगा।

यह भी पढ़ें : श्रीश्री रविशंकर बोले, अयोध्या में जल्द बनेगा राम मंदिर

राम के घोर विरोधी नरेश

राज्यसभा सांसद नरेश अग्रवाल को भगवान राम का घोर विरोधी माना जाता रहा है। संसद के उपरी सदन में राम मंदिर मुद्दे पर दिए गए अपने बयानों के कारण नरेश अग्रवाल हमेशा से रामभक्तों के निशाने पर रहे है। उन्होंने कहा था कि विहस्की में विष्णु बसे, रम में श्रीराम, जिन में माता जानकी, ठर्रे में हनुमान, सियावर रामचंद्र की जय। इसके अलावा सदन में हिन्दू संतों को गाली देने के लिए नरेश को जाना जाता है।

यही नहीं पाकिस्तान में बंधक कुलभूषण जाधव को नरेश ने आतंकवादी करार देते हुए पाकिस्तान सरकार की हिमायत की।

यह भी पढ़ें : इस गांव के सभी मर्द पहनते हैं औरतों के कपड़े, ये है कारण

सोशल मीडिया पर तीखी आलोचना

सपा सांसद नरेश अग्रवाल को भाजपा में शामिल किए जाने की सोशल मीडिया पर तीखी आलोचना की जा रही है। भाजपा समर्थक इसे पार्टी का गलत कदम बता रहे हैं। तो कुछ लोगों का कहना है कि अब भाजपा ऐसे गिरे हुए लोगों की पार्टी बनने जा रही है जिन्हें महिलाओं की इज्जत तक करना नहीं आती।

क्रिकेटर रविंद्र जडे़जा ने ट्वीट किया है कि राहुल गांधी ने बीजेपी को वोट देने के लिए पर्याप्त कारण दिए। इस तरह अमित शाह ने भी कांग्रेस को वोट देने के लिए पर्याप्त कारण दिए है। सब मिले हुए है जी।

एक अन्य यूजर कृष माहेश्वरी ने लिखा है कि नरेश अग्रवाल जो हिन्दू देवताओं की तुलना अल्कोहल से करता है। सीमा पर इंडियन आर्मी पर सवाल उठाता है। कुलभूषण जाटव को आतंकवादी कहता है। पीएम मोदी को गाली देता है। उसे भाजपा में स्वीकार कर लिया जाता। जय हो।

इसी तरह एक अन्य यूजर अनमोल कात्यिर ने ट्वीट किया है कि अब अगर दाउद इबाहिम कहे कि वह नरेंद्र मोदी और आदित्यनाथ के काम और नेतृत्व से प्रभावित है तो क्या उसे भी नरेश अग्रवाल की तरह भाजपा में शामिल कर लिया जाएगा।

Also Read:

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें