Alwar Gangrepe Case : आरोपियों को फांसी की मांग, आक्रोशित लोगों ने निकाली रैली

27
Alwar Gangrepe Case

अलवर: राजस्थान के अलवर जिले के थानागाजी थाना क्षेत्र में अपने पति के साथ बाइक पर जा रही एक महिला के साथ उसके पति के सामने कथित दुष्कर्म कर उसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल करने वाले पांच आरोपियों में तीन को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपियों को फांसी की सजा की मांग करते हुए आज विभिन्न संगठनों की ओर से रैली निकालकर प्रदर्शन किया गया।

इस मामले को लेकर थानागाजी में विभिन्न संगठनों के लोगों ने आक्रोश रैली निकालकर प्रदर्शन किया और इस मामले के सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर कड़ी से कड़ी फांसी तक की सजा दिये जाने की मांग की। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि शेष फरार आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार कर उन्हें ऐसी कड़ी सजा दी जानी चाहिए ताकि भविष्य में किसी की ऐसी घटना को अंजाम देनी की हिम्मत नहीं हो। प्रदर्शनकारियों ने बाद में प्रशासन को इस संबंध में एक ज्ञापन भी दिया।

प्रदर्शन कर रहे लोगों ने कहा कि इस मामले में जब तक न्याय नहीं मिल जाता, बाजार बंद करने एवं प्रदर्शन करने के साथ आंदोलन जारी रहेगा। इस मामले के गर्माने के बाद थानागाजी में अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है। प्रदर्शन के समर्थन में निजी शिक्षण संस्थान बंद रहे। इसके अलावा थानागाजी में शिव मंदिर में लोगों ने धरना शुरु कर दिया।

यह भी पढ़ें : सेल्फ कॉन्फिडेंस बढ़ाने के 5 तरीके, आज ही आजमाएं

पीड़ित परिवार को दिया मुआवजा

राज्य सरकार ने पीडित परिवार को चार लाख बारह हजार पांच सौ रुपए का मुआवजा तथा सुरक्षा मुहैया कराई गई है। इस मामले में अब तक तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। गिरफ्तार आरोपियों में मुकेश, इंद्रराज एवं अशोक शामिल हैं। मुकेश को दुष्कर्म मामले का वीडियों सोशल मीडिया पर वायरल करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है तथा शेष आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास किये जा रहे है। पीडिता के 164 के तहत बयान दर्ज कराए जा रहे हैं।

आरोपियों को पकड़ने के लिए चौदह पुलिस दलों का गठन

पुलिस महानिदेशक कपिल गर्ग के अनुसार शेष आरोपियों को पकड़ने के लिए चौदह पुलिस दलों का गठन किया गया है। उन्होंने बताया कि मामले में लिप्त आरोपियों के विरुद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई करने के लिए वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए गए है और किसी भी स्तर पर लापरवाही या अनियमितता पाई जाने पर भी सख्त कार्रवाई की जाएगी। उधर सांसद किरोड़ी लाल मीणा मंगलवार को थानागाजी पहुंचकर इस मामले में उदासीनता बरतने वाले अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने एवं पीड़ित परिवार को सुरक्षा मुहैया कराने की मांग की।

यह भी पढ़ें : सफलता के ये दस कदम चलिए, हर काम में मिलेगी सफलता

तीन सदस्यीय भाजपा की एक कमेटी पीड़िता से मिली

इसके अलावा प्रदेश भाजपा की तीन सदस्यीय भाजपा की एक कमेटी पीडिता से मिली। कमेटी में शामिल राज्य महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष सुमन शर्मा ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के इस्तीफे की मांग भी की है। उल्लेखनीय है कि इस मामले में पुलिस अधीक्षक राजीव पचार को एपीओ एवं थानागाजी के थानाधिकारी को निलंबित तथा एक एएसआई एवं तीन पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया गया। गत 26 अप्रैल को पांच आरोपियों ने एक महिला के साथ उसके पति को बंधक बनाकर सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया, इसके बारे में दो मई को मामला दर्ज हुआ।

Alwar Gangrepe Case : आरोपियों को फांसी की मांग, आक्रोशित लोगों ने निकाली रैली

Also Read:

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

Leave a comment