Calendar 2022: आपकी तरक्की में बाधा है घर में लगे पुराने कैलेंडर, जानिए कैलेंडर लगाने की सही दिशा

    साल 2022 में कहीं आप भी तो अनजाने में यह गलती नहीं करने जा रहे हैं। कैलेंडर की सही दिशा नहीं हैं तो यह आपकी तरक्की में बाधा बन सकती है।

    - Advertisement -

    वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में पुराने कैलेंडर लगाना अच्छा नहीं माना जाता है। घर में लगे पुराने साल के कैलेंडर आपकी तरक्की में बहुत बड़ी बाधा है। यदि आपके घर में भी पुराने साल के कैलेंडर लगे हुए है, तो उन्हें जल्द हटा दें। पुराने कैलेंडर प्रगति के अवसरों को कम करते हैं। नए साल में नया कैलेंडर लगाना चाहिए। जिससे नए साल में पुराने साल से भी ज्यादा शुभ अवसरों की प्राप्ति हो सके।

    यदि आप साल 2022 में पुरे साल अच्छे योग और प्रगति के अवसर चाहते हैं तो घर में कैलेंडर को वास्तु के अनुसार ही लगाएं अर्थात घर में कैलेंडर लगाने की दिशा सही होनी चाहिए। आइए जानते हैं किे घर में किस दिशा में कैलेंडर लगाना शुभ होता है।

    यह भी पढ़ें : Steve Jobs : जानिए Apple के संस्थापक स्टीव जाॅब्स की सफलता का मूल मंत्र

    वास्तु के अनुसार कैलेंडर लगाने की सही दिशा

    कलैंडर हमेशा घर की उत्तर, पश्चिम या पूर्वी दिशा में लगाया जाना चाहिए। इसके अलावा हिंसक पशु, दुखी चेहरों की फोटो वाले कैलेंडर भूलकर भी नहीं लगाना चाहिए। इससे घर में नेगेटिव एनर्जी का संचार होता है और बनते काम भी बिगड़ने लगते हैं।

    पूर्व दिशा में कैलेंडर लगाना बढ़ाता है प्रगति के अवसर

    पूर्व दिशा के स्वामी सूर्य देव है। जो लीडरशिप को देवता है। इस दिशा में कैलेंडर रखना जीवन में प्रगति लाने वाला होता है। लाल या गुलाबी रंग के कागज पर उगते सूरज, भगवान आदि की तस्वीरों वाला कैलेंडर शुभ माना जाता है।

    उत्तर दिशा में कैलेंडर बढ़ाता है सुख-समृद्धि

    उत्तर दिशा धन के देवता कुबेर की दिशा मानी जाती है। हरियाली, फव्वारा, नदी, समुद्र, झरने व विवाह समारोह आदि की तस्वीरों वाला कैलेंडर इस दिशा में लगाया जाना चाहिए। यह ध्यान रखना चाहिए कि उत्तर दिशा में लगाने जाने वाले कैलेंडर में हरे या सफेद रंग का प्रयोग अधिक हो।

    यह भी पढ़ें : Mark Zuckerberg : Facebook CEO मार्क जुकेरबर्ग की सफलता के 6 फंडे

    पश्चिम दिशा में कैलेंडर लगाने से बनते हैं रुके हुए काम

    वास्तु में पश्चिम दिशा को बहाव की दिशा माना जाता है। इस दिशा में कैलेंडर लगाने से कार्यों में गति आती है। कार्यक्षमता बढ़ती है। व्यक्ति के रुके हुए काम सहज ही बनने लगते हैं। घर की पश्चिम दिशा का वह कोना जो उत्तर दिशा के समीप हो, वहां कलैंडर लगाना जाना चाहिए।

    भूलकर भी इस दिशा में नहीं लगाए कैलेंडर

    घड़ी और कैलेंडर दोनों की समय की सूचक माने जाते है। दक्षिण दिशा ठहराव की दिशा है। यहां समय सूचक वस्तुओं को रखने से बचना चाहिए। ये घर के सदस्यों की तरक्की के अवसरों को रोकता है। ऐसा करने से घर के मुखिया के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है। घर के सदस्य अक्सर बीमार रहने लगते हैं।

    मुख्य दरवाजे से नजर नहीं आना चाहिए कैलेंडर

    वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में लगाए जाने वाला कैलेंडर घर के मुख्य दरवाजे से नजर नहीं आना चाहिए। इससे दरवाजे से आने वाली पॉजिटिव एनर्जी प्रभावित होती है। इसके साथ ही इस बात का ख्याल रखना चाहिए कि आपके घर में लगा कैलेंडर के पेज तेज हवा चलने से हिले नहीं। ऐसा होने से घर में नेगेटिव एनर्जी आने लगती है। घर के लाेग की सोच नकारात्मक होने लगती है।

    Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज और ट्विटर पर फॉलो करें

    इस खबर काे शेयर करें

    - Advertisement -
    News Posthttps://www.newspost.in
    हिन्दी समाचार, News in Hindi, हिन्दी न्यूज़, ताजा समाचार, राशिफल, News Trend. हिन्दी समाचार, Latest News in Hindi, न्यूज़, Samachar in Hindi, News Trend, Hindi News, Trend News, trending news, Political News, आज का राशिफल, Aaj Ka Rashifal, News Today

    Latest news

    - Advertisement -

    Related news

    - Advertisement -

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    ollhmtn05epenfp1yuply4cg5bx3sd