Corona Vaccines Update: एक मई से 18 से 44 वर्ष वालाें काे ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के बाद ही लगेंगे कोरोना टीके, जरूरी बातें

    - Advertisement -

    नई दिल्ली। देश में काेराेना के बढ़ते संक्रमण और ऑक्सीजन के गहराते संकट के बीच केंद्र ने राज्यों व केंद्रशासित प्रदेशों को नए निर्देश जारी किए हैं। ये निर्देश महामारी से निपटने और कोरोना टीकाकरण के अगले चरण से संबंधित हैं। इनमें सभी राज्याें और केंद्रशासित प्रदेशाें काे अभी से टीकाकरण केंद्रों के रूप में अस्पताल निर्धारित करने काे कहा गया है।

    बता दें कि एक मई से 18 से 44 साल के लाेगाें के लिए भी कोरोना टीकाकरण शुरू होने जा रहा है। इसी के मद्देनजर केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण और आरएस शर्मा ने यह चिट्ठी लिखी है। इसमें सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के अतिरिक्त मुख्य सचिव/प्रधान सचिवों के लिए सिलसिलेवार तैयारियों को लेकर दिशा-निर्देश हैं। उन्हें रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ), वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद आदि से भी मदद लेने की सलाह दी है। साथ ही इसी तरह के निजी क्षेत्र के विशेषज्ञ संस्थानाें से भी।

    यह भी पढ़ें : Corona: सावधान ये 5 लक्षण शरीर में दिखाई दें, तो नजरअंदाज नहीं करें

    केंद्र ने राज्यों को ये दिए निर्देश

    1. 18 से 44 साल की उम्र के लोगों के लिए कोविन वेब पोर्टल पर पंजीकरण कराना अाैर टीकाकरण के लिए समय लेना अनिवार्य होगा।
    2. शुरुआत में टीकाकरण केंद्र पर पंजीकरण कराने की अनुमति नहीं है।
    3. 45 से अधिक उम्र के लोग टीकाकरण केंद्र पर ही पंजीकरण कराकर टीका लगवा सकेंगे, जैसा अभी हाे रहा है।
    4. 18 से 44 साल की आयु के लोगों के लिए काेविन पाेर्टल, आरोग्य सेतु एप पर पंजीकरण 28 अप्रैल से शुरू होगा।
    5. टीका लगवाने के लिए पेश किए जाने वाले दस्तावेज पहले जैसे ही हैं।
    6. टीका निर्माताओं ने पहले ही टीकाें के दाम घाेषित कर दिए हैं। एक मई से वे इसके अनुसार टीका मुहैया कराएंगे।

    कोरोना वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे होगा?

    1. आप पोर्टल cowin.gov.in पर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। इसके अलावा आरोग्य सेतु पर रजिस्ट्रर किया जा सकता है।
    2. वेबसाइट पर जाएं, अपना मोबाइल नंबर डालें।
    3. इसके बाद आपके मोबाइल पर एक ओटीपी आएगा, उसे डालकर अकाउंट बनाएं।
    4. नाम, उम्र, लिंग भरें और कोई एक मान्य पहचान पत्र की कॉफी अपलोड करें।
    5. अगर आपकी उम्र 45 साल से ज्यादा है और को-मॉर्बिडिटी है तो उसका सर्टिफिकेट अपलोड करें।
    6. टीकाकरण केंद्र और तारीख चुनें। इसके बाद दी गई तारीख और समय पर टीका लगवा सकते हैं।
    7. सीनियर सिटीजन फोन से रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। इसके लिए कॉल सेंटर का नंबर 1507 डायल करना होगा। अगर सेल्फ रजिस्टर नहीं करा सकते, तो नजदीकी कोविड टीकाकरण केंद्र पर अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।

    कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए कौनसे दस्तावेज जरूरी हैं?

    • इन 12 दस्तावेजों में से कोई एक दस्तावेज का होना जरूरी है। ये दस्तावेज हैं-
    • आधार कार्ड
    • वोटर आईडी
    • पासपोर्ट
    • ड्राइविंग लाइसेंस
    • बैंक या पोस्ट ऑफिस की पासबुक
    • मनरेगा जॉब कार्ड
    • सांसद या विधायक का आईडी कार्ड
    • सरकारी कर्मचारियों का आईडी
    • एनपीआर के तहत जारी स्मार्ट कार्ड

    कोरोना का टीका कहां लगवा सकते हैं?

    वैक्सीनेशन में सरकारी हेर्ल्थसेंटरों के साथ निजी अस्पतालों को भी शामिल किया गया है। यानी आपके पास अपनी पसंद के सेंटर पर टीका लगवाने का विकल्प होगा।

    यह भी पढ़ें : Corona: सावधान ये 5 लक्षण शरीर में दिखाई दें, तो नजरअंदाज नहीं करें

    टीकाकरण केंद्रों के लिए ये व्यवस्था जरूरी

    1. सभी सरकारी और निजी कोरोना टीकाकरण केंद्रों का काेविन पर रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य होगा
    2. सभी टीकाकरण केंद्रों को वैक्सीनेशन का रिकॉर्ड रखना होगा। डिजिटल वैक्सीनेशन प्रमाणपत्र जारी करना होगा।
    3. कोविड केयर सेंटर्स पर पर्याप्त कोल्ड चैन उपकरण और क्षमता हो।
    4. वैक्सीनेशन के लिए पर्याप्त स्थान और वेटिंग एरिया हो।
    5. वैक्सीन देने वाले प्रशिक्षित लोगों की पर्याप्त संख्या हो।
    6. प्राइवेट अस्पतालों और इंडस्ट्रियल संस्थाएं, जो वैक्सीनेशन की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए तैयार हैं, वे अपने वैक्सीनेशन सेंटर्स के लिए वैक्सीन की डोज सीधे निर्माता से प्राप्त कर सकती हैं।
    7. कोविड वैक्सीन सेंटर्स काे कोविन पर वैक्सीन के प्रकार, स्टॉक और कीमत की जानकारी देनी होगी।

    भीड़ नियंत्रित करने के लिए यह व्यवस्था

    चिट्ठी में कहा गया है कि टीका केंद्राें पर भीड़ नियंत्रित करने के लिए अाॅनलाइन पंजीकरण अनिवार्य किया गया है। एक अधिकारी ने कहा कि सभी को टीके लगाने की शुरुआत होने के बाद टीकों की मांग बढ़ने का अनुमान है। शुरुअात में टीकाकरण केंद्राें पर पंजीकरण कराने की अनुमति नहीं होगी, ताकि गहमागहमी न हो।

    नि:शुल्क टीका भी लगता रहेगा

    निजी अस्पताल केंद्र सरकार से टीकों की खुराकें लेकर 250 रुपए प्रति खुराक के हिसाब से लोगों को टीका लगा रहे हैं। एक मई से यह व्यवस्था खत्म हो जाएगी। निजी अस्पतालों को सीधे टीका निर्माताओं से खुराकें खरीदनी होंगी। राष्ट्रीय कोविड-19 टीकाकरण रणनीति के अनुसार सरकारी टीकाकरण केंद्राें में स्वास्थ्यकर्मियों, अग्रिम मोर्चे पर तैनात कर्मियों और 45 साल से अधिक आयु के लोगों को केंद्र की ओर से नि:शुल्क टीके लगाए जाते रहेंगे।

    यह भी पढ़ें : Corona Update: रूस की स्पुतनिक वैक्सीन को मिल सकती है भारत में इस्तेमाल की मंजूरी

    दिल्ली ने एक सप्ताह के लिए लाॅकडाउन बढ़ाया

    महामारी राेकने के लिए दिल्ली सरकार ने राज्य में एक सप्ताह के लिए सख्त लाॅकडाउन बढ़ा दिया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार काे इसकी घाेषणा की। उन्हाेंने कहा कि पहले ही तरह जरूरी सेवाअाें अाैर अावश्यक ड्यूटी करने वालाें काे छूट जारी रहेगी। केजरवाल ने कहा कि अगर लाॅकडाउन नहीं लगाया गया ताे हालात विकट हाे जाएंगे, क्याेंकि राज्य में अब भी संक्रमण दर 29% है। पहले यह 36-37% पहुंच चुकी थी। अब दिल्ली में 3 मई की सुबह तक लाॅकडाउन रहेगा। वहीं पंजाब के कई शहराें में लाॅकडाउन है। लेकिन लुधियाना में रविवार काे लेबर मंडी में बेराेजगार मजदूराें की भीड़ देखी गई। काम बंद हाेने से मजदूराें के सामने राेजी-राेटी का संकट है।

    - Advertisement -
    News Posthttps://www.newspost.in
    हिन्दी समाचार, News in Hindi, हिन्दी न्यूज़, ताजा समाचार, राशिफल, News Trend. हिन्दी समाचार, Latest News in Hindi, न्यूज़, Samachar in Hindi, News Trend, Hindi News, Trend News, trending news, Political News, आज का राशिफल, Aaj Ka Rashifal, News Today

    Latest news

    - Advertisement -

    Related news

    - Advertisement -

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    ollhmtn05epenfp1yuply4cg5bx3sd