Alwar Gangrepe Case : जितना रोकना चाहा, उतना ज्यादा किया रेप, 3 घंटे तक चली दरिंदगी

0
200

अलवर : राजस्थान के अलवर जिले में दलित महिला के साथ हुए गैंगरेप में समूचे देशभर के लोग आक्रोशित है। अलवर के थानागाजी थाना क्षेत्र में हुए इस गैंगरेप में जो बातें अब निकलकर आ रही है, उन्हें जानकर हर किसी की रूह कांप उठती है। पांच लोगों ने एक दलित महिला के साथ उसके पति के सामने तीन घंटे तक रेप किया। महिला ने जितना उन्हें रोकना चाहा, उसके साथ उन लोगों ने उतनी ही दरिंदगी की। अभी तक इस मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका हैं।

बता दें कि यह दलित युवती अपने पति के साथ बाजार शॉपिंग करने गई थी। जहां सुनसान रास्ते में इन आरोपियों ने उसके पति को बंधक बनाकर उसका गैंगरेप किया तथा इस दुष्कर्म की वीडियो बनाने के बाद महिला व उसके पति को ब्लेकमेल भी किया।

जितना रोकना चाहा, उतनी ही दरिंदगी

रेप पीडिता के अनुसार उसने आरोपियों को जितना रोकना चाहा, उन्होंने उसके साथ उतनी ही ज्यादा दरिंदगी दिखाई। पांच आरोपियों ने तीन घंटे के दौरान कई बार महिला के साथ दुष्कर्म किया। घटना के बाद पीड़िता को एक आरोपी ने फोन किया और रिकॉर्ड वीडियो वायरल ना करने की एवज में 10 हजार रूपए की मांग की।

सभी आरोपी ट्रक ड्राइवर व हेल्पर

गैंगरेप में शामिल एक आरोपी की पहचान ट्रक ड्राइवर इंद्र्रराज गुर्जर के रूप में हुई। सभी आरोपियों की उम्र 21-25 के बीच है। पुलिस को प्राथमिक जांच में पता चला है कि सभी आरोपी ट्रक ड्राइवर व हेल्पर है। इन पांच आरोपियों के अलावा मुकेश गुर्जर नामक युवक को महिला का वीडियो वायरल करने के मामले में गिरफ्तार किया गया है।

तीन आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

इस मामले में पुलिस ने अब तक तीन आरोपियों को गिरफ्तार किए जाने का दावा किया है। अन्य दो आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए संभावित ठिकानों पर दबिश दी जा रही है। अलवर एसपी राजीव प्रचार को एपीओ कर दिया गया है, जबकि थानागाजी थाने का पूरा स्टाफ सस्पेंड कर दिया गया है।

ऐसे दिया वारदात को अंजाम

पीड़ित युवती के देवर ने एक टीवी चैनल को बताया कि उसका भाई जयपुर में काम करता है और भाभी थानागाजी स्थित अपने मायके में रहती है। 26 अप्रैल को दोनों शॉपिंग के लिए गए हुए थे। दोनों अपनी बाइक से जा रहे थे। तभी अन्य दो बाइकों पर सवार पांच युवक उनका पीछा करने लगे। सुनसान इलाका आने पर उन्होंने इनकी बाइक के आगे बाइक लगाकर इन्हें गिरा दिया। इसके बाद दोनों को खींचकर रोड के नीचे रेत के टीलों के पीछे ले गए।

पति को बचाने के लिए महिला ने किया सरेंडर

रेत के टीलों के पीछे ले जाकर पति-पत्नी दोनों के साथ मारपीट की गई। इसके बाद इन दोनों के कपड़े उतरवाए गए और वीडियो रिकॉर्डिग की गई। महिला के देवर के अनुसार पांचों लोगों ने उसके भाई को डंडों से पीटना शुरू किया। भाभी ने भाई को बचाने का प्रयास किया तो उसके साथ भी मारपीट की गई। अपने पति को बचाने के लिए आखिरकार उस युवती ने उन दरिंदों के साथ सरेंडर कर दिया। इसके बाद इन पांचों ने बारी-बारी उस युवती के साथ दरिंदगी की। यह सब तीन घंटे तक चला। जाते समय आरोपियों ने उनके पास रखे 2 हजार रूपए भी लूट लिए।

गहरे सदमे में चले गए पति-पत्नी दोनों

पीड़िता के देवर ने बातया कि घटना के बाद दोनों पति-पत्नी जैसे-तैसे बाइक को धक्का लगाकर सडक पर ले आए और घर आ गए। दोनों गहरे सदमे में जा चुके थे। उन्होंने तीन दिन बाद परिवार वालों को इस बारे में बताया।

Alwar Gangrepe Case : जितना रोकना चाहा, उतना ज्यादा किया रेप, 3 घंटे तक चली दरिंदगी

Also Read:

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

Leave a comment