स्पेस सुपर पॉवर बना भारत, अंतरिक्ष में 3 मिनट के भीतर LIVE सैटेलाइट को मार गिराया

0
338
india become Space super power

स्पेस सुपर पॉवर बना भारत, अंतरिक्ष में 3 मिनट के भीतर LIVE सैटेलाइट को मार गिराया

नई दिल्लीः आज का दिन 27 मार्च 2019 हर भारतवासी के लिए बहुत बड़ा दिन है। बुधवार को भारत को स्पेस सुपर पॉवर का दर्जा मिल गया हैं। पीएम नरेंद्र मोदी ने बुधवार दोपहर 12.30 बजे देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि भारत ने तीन मिनट में अंतरिक्ष में एलईओ सैटेलाइट को मार गिराया। ऐसा कर भारत ने अंतरिक्ष इतिहास में अपना नाम दर्ज करा दिया हैं। लोकसभा चुनाव से ठीक पहले भारत को सुपर पॉवर का दर्जा मिलने का देशवासियों में खुशी की लहर है।

अब तक तीन देशों को हासिल है स्पेस सुपर पॉवर का दर्जा

पीएम मोदी ने बताया कि यह उपलब्धि हासिल करने वाला भारत दुनिया का चौथा देश है। इससे पहले अमेरिका, रूस व चीन को ही स्पेस सुपर पॉवर का दर्जा मिला हुआ हैं।

मोदी ने कहा कि हर हिन्दुस्तानी के लिए इससे बड़े गर्व का पल नहीं हो सकता। कुछ समय पूर्व ही हमारे वैज्ञानिकों ने अंतरिक्ष में 300 किलोमीटर दूर एलईओ यानी लो अर्थ ऑर्बिट में एक लाइव सैटेलाइट को मार गिराया है।

मोदी ने बताया कि लो ऑबिट में यह लाइव सैटेलाइट एक पूर्व निर्धारित लक्ष्य था। उसे एंटी सैटेलाइट मिसाइल द्वारा मार गिराया गया है। सिर्फ तीन मिनट में यह ऑपरेशन सफलतापूर्वक पूरा किया गया हैं। इस ऑपरेशन को मिशन शक्ति नाम दिया गया है। मिशन शक्ति अत्यंत कठिन ऑपरेशन था। जिसे पूरा करने के लिए बहुत ही उच्च तकनीति क्षमता की आवश्यकता थी। इस मिशन को पूरा कर वैज्ञानिकों ने सभी निर्धारित लक्ष्य और उद्देश्य प्राप्त कर लिए है। पीएम मोदी ने कहा कि हम सभी भारतीयों के लिए यह गर्व की बात है कि यह पराक्रम भारत में ही विकसित एंटी सैटेलाइट ए-सैट मिसाइल द्वारा विकसित किया गया है।

भारत को चलना होगा समय से दो कदम आगे

पीएम मोदी ने कहा कि तकनीकी के साथ चलना समय की आवश्यकता हैं। मैं चाहता हूं कि भारत समय से दो कदम आगे चलें। विश्व में स्पेस और सेटेलाइट का महत्व बढ़ता जाने वाला है। शायद जीवन इसके बिना अधूरा हो जाएगा। ऐसी स्थिति में इन सभी उपकरणों की सुरक्षा पुख्ता करना उतना ही महत्वपूर्ण है। आज की एंटी सैटेलाइट ए-सैट मिसाइल भारत की सुरक्षा की दृष्टि से और भारत की विकास यात्रा की हिसाब से देश को एक नई मजबूती देगी।

भारत विश्व में शांति के पक्षधर

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि मैं विश्व समुदाय को आश्वस्त करना चाहता हूं कि हमने जो यह नई क्षमता हासिल की है। यह किसी के खिलाफ नहीं है। यह तेज गति से आगे बढ़ रहे देश की सुरक्षात्मक पहल है।

मोदी ने कहा कि भारत हमेशा से अंतरिक्ष में हथियारों की होड़ के खिलाफ रहा हैं इससे इस नीति में कोई बदलाव नहीं आया है। आज का यह परीक्षण किसी भी तरह के अंतरराष्ट्रीय कानून अथवा संधि-समझौतों का उल्लंघन नहीं है। हम आधुनिक तकनीक का उपयोग कर देश के 130 करोड़ नागरिकों की सुरक्षा और विकास के लिए कार्य करना चाहते है।

पीएम मोदी ने दी वैज्ञानिकों को बधाई

पीएम मोदी ने कहा कि मैं मिशन शक्ति से जुडे़ सभी वैज्ञानिकों, डीआरडीओ के लोगों को बहुत-बहुत बधाई देता हूं। जिन्होंने इस असाधारण सफलता को प्राप्त करने में योगदान किया। हमें हमारे वैज्ञानिकों पर गर्व है। अंतरिक्ष आज हमारी जीवनशैली का महत्वपूर्ण हिस्सा बन गया है। आज हमारे पास पर्याप्त संख्या में उपग्रह उपलब्ध है। जो अलग-अलग क्षेत्रों में अपना योगदान दे रहे हैं जैसे-कृषि, आपदा प्रबंधन, टीवी, एंटरटेनमेंट, मौसम की जानकारी, नेविगेशन, शिक्षा, मेडिकल। हमारे उपग्रहों का लाभ सभी को मिल रहा है।

स्पेस सुपर पॉवर बना भारत, अंतरिक्ष में 3 मिनट के भीतर LIVE सैटेलाइट को मार गिराया

Leave a comment