Buddha Purnima 2019 Wishes and Messages: कुछ इस तरह दें अपने प्रियजनों को बुद्ध पूर्णिमा की शुभकामनाएं, WhatsApp Stickers, Facebook Greetings, HD Wallpapers

0
180
Buddha Purnima 2019 Wishes

Buddha Jayanti 2019 Wishes and Messages: वैशाख माह (Vaishakh Month) की पूर्णिमा को बुद्ध पूर्णिमा (Buddha Purnima) के नाम से जाना जाता है। इसे वैशाखी व पीपल पूर्णिमा भी कहा जाता हैं। बुद्ध पूर्णिमा का यह पर्व बौद्ध धर्म के लिए बेहद खास होता है । ऐसा माना जाता है कि इस दिन भगवान बुद्ध को ज्ञान प्राप्त हुआ था।इस साल बुद्ध पूर्णिमा का यह पर्व 18 मई 2019 को मनाया जा रहा है। कहा जाता है कि इस दिन व्रत रखने और श्रद्धा भाव से भगवान बुद्ध व विष्णु जी की पूजा करने से घर में सुख-शांति आती है। व्यक्ति पापों से मुक्त होता है और धर्म के मार्ग का अनुसरण करता है।

हिंदू और बौद्ध धर्म के लिए महत्वपूर्ण माने जाने वाले इस पर्व पर आप किसी को बधाई न दें, ऐसा कैसे हो सकता है। इस बेहद खास मौके पर आप अपने दोस्तों, परिजनों और करीबियों को शुभकामनाएं दे सकें, इसलिए हम खास आपके लिए लेकर आए हैं बुद्ध पूर्णिमा के शानदार प्रेरणादायक मैसेजेस, वॉट्सऐप स्टिकर्स (WhatsApp Stickers), फेसबुक ग्रीटिंग्स (Facbook Greetings) और वॉलपेपर्स (Hd Wallpapers).

1- सुख और दुख जीवन के रंग हैं,
सब सही है अगर श्रद्धा संग है,
भगवान बुद्ध के ध्यान में मलंग हैं
हैप्पी बुद्ध पूर्णिमा कहने का यह नया ढंग है.
बुद्ध पूर्णिमा की शुभकामनाएं.

 

Buddha-Purnima-2019-Wishes

2- हर दिन आपके जीवन में आए,
सुख, शांति और समाधान.
श्रद्धा और अहिंसा के दूत को,
आज तहे दिल से प्रणाम.
बुद्ध पूर्णिमा की शुभकामनाएं.

3- सच का साथ देते रहो,
अच्छा सोचो अच्छा कहो,
प्रेम धारा बनके बहो,
आपके लिए बुद्ध पूर्णिमा शुभ हो.
बुद्ध पूर्णिमा की शुभकामनाएं.

 

4- प्रभु का हाथ आपके सर पर हो,
सुख-समृद्धि आपके दर पर हो,
जो आप चाहें वो जरूर पाएं,
आपको बुद्ध पूर्णिमा की शुभकामनाएं.

Buddha-Purnima-2019

5- दिल में नेक ख्याल हो,
होंठों पर सच्चे बोल हो,
बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर,
आपको शांति मिले अनमोल,
बुद्ध पूर्णिमा की शुभकामनाएं.

Buddha-Purnima-2019-Wishes

गौरतलब है कि दुनियाभर के बौद्ध धर्म के अनुयायी इस दिन बड़ी ही श्रद्धा के साथ बौद्ध मठों में इकट्ठा होते हैं और गौतम बुद्ध द्वारा दिए गए उपदेशों को सुनते हैं। इस पर्व की खासियत यह है कि इसे अलग-अलग देशों में विभिन्न नामों और रीति-रिवाजों के साथ मनाया जाता है।

Also Read:

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

 

 

 

 

Leave a comment