घर में चाहिए सुख-समृद्धि व खुशहाली, तो आज ही लगाइए फिश एक्वेरियम

0
1287
घर में चाहिए सुख-समृद्धि व खुशहाली, तो आज ही लगाइए फिश एक्वेरियम

आजकल देखने में आ रहा है कि घर, ऑफिस और दुकान में फिश एक्वेरियम रखने का क्रेज तेजी से बढ़ रहा है। वास्तुशास्त्र के मुताबिक एक्वेरियम घर, ऑफिस और दुकान मे शुभ माना जा रहा है। इसके अलावा डेकोरेशन के मामले में भी सभी जगह सबसे ज्यादा यूनिक एक्वेरियम ही माना जा रहा है।

वास्तुशास्त्र में कहा गया है कि यह सुख-शांति, समृद्धि और खुशहाली का प्रतीक होतो है। घर में जोड़े से मछली लटकाने से घर में बरकत और कार्य क्षेत्रों में उन्नति होती है। वास्तु के अलावा खूबसूरती की बात करें तो इस लिहाज से भी एक्वेरियम बेहद पसंद किया जा रहा है। यह आपके घर की सुंदरता के साथ-साथ वास्तुशास्त्र के अनुसार घर की सुख-शांति में भी लाभदायक सिद्व हो रहा है। आइए जानते है वास्तुशास्तु के अनुसार एक्वेरियम के क्या है फायदे…

यह भी पढ़ें : View Ads and Earn Money Online in India

लक्ष्मी का प्रवेश

वास्तुशास्त्र के अनुसार घर में एक्वेरियम रखने से घर में ल्रक्ष्मी का प्रवेश होता है। इसके अलावा मछलियों को खाना खिलाने से पुण्य भी प्राप्त होता है। घर के प्रवेशद्वार से ही एक्वेरियम दिखाई देना चाहिए अर्थात कहने का मतलब है कि एंट्री गेट के सामने ही एक्वेरियम रखने का स्थान सुनिश्चित हो। सबसे ज्यादा ध्यान रखने वाली बात यह है कि इस पर धूप नहीं पड़नी चाहिए। इसलिए वास्तुशास्त्र का मानना है कि इससे घर में लक्ष्मी का आगमन होता है।

यह भी पढ़ें : कम पूंजी से शुरू करें ये 10 बिज़नेस, पाएं हर महीने लाखों रूपए कमाने का मौका

दिशाओं का रखें ख्याल

वास्तुशास्त्र विशेषज्ञों की माने तो वेदों के अनुसार नार्थ-ईस्ट ईशान कोण अतिशुभ माना जाता है, क्योंकि भारत में इन्हीं दिशाआें में पानी पाया जाता है। हम लोग अधिकांश रूप से पानी की बोरिंग भी इसी दिशा में कराते हैं। इसलिए एक्वेरियम को व्यवस्थित रखने और वास्तु के हिसाब से इन दिशाओं में ही रखें। वैसे इसे धूप से बचाते हुए किसी भी दिशा में रखा जा सकता है। आमतौर पर सबसे ज्यादा यूज घरों के सूने पड़े एरिया जैसे कमरों के कोने, लॉबी या डाइनिंग हॉल में किया जाता है।

यह भी पढ़ें : SBI दे रहा है आपको हर महीने घर बैठे 50 हजार कमाने का मौका, जानिए कैसे

नवग्रहों के समकक्ष

घर में रखे जाने वाले एक्वेरियम में ज्यादातर आठ गोल्ड और एक ब्लैक मछली मिलाकर नौ मछलियां पसंद की जाती है। वास्तु विशेषज्ञों के अनुसार इस ट्रेंड को नवग्रहों को रखने से घर में शांति का निवास और एकाग्रता बनी रहती है।

रंग-बिरंगी मछलियां

बाजार में मुंबई, कलकत्ता, और चेन्नई से मछलियां मंगाई जाती है। गोल्ड और व्हाइट एंजल मछलियां को खुब पसंद किया जाता है क्योंकि गोल्ड और सिल्वर कलर देखने में काफी आकर्षक लगते हैं। कई प्रकार के रंगों को देखते हुए ब्लैक, मोली, गुरामी मछलियां भी कापी पसंद की जाती है।

यह भी पढ़ें : नौकरी की तलाश में हो, तो अपनाएं ये vastu tips, जल्द मिलेगी जॉब

सुख-शांति और खुशहाली

एक्वेरियम में भरे पानी में मछलियां के चलने से पानी में पैदा होने वाली गति से मन को सुकून ओर शांति मिलती है। कर्जदार व मानसिक रूप से परेशान लोगों को मछलियों को खाना खिलाना चाहिए। फिश एक्वेरियम से घर व दुकान में सुख-समृद्धि और खुशहाली बनी रहती है।

Also Read:

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

Leave a comment