पेशे के अनुसार पहनें रत्न, जल्दी मिलेगी सफलता

0
376

wear gems according to the professionयदि आपको अपने प्रोफेशन में कोई प्राब्लम आ रही है। आप अपने नौकरी-पेशा जिदंगी में जितनी मेहनत कर रहे है उसका पूरा फल आपको प्राप्त नहीं हो रहा है। सरल शब्दों में कहें तो बहुत मेहनत करने पर भी परिणाम अच्छे नहीं मिल रहे है। अपने बिजनेस और कार्यक्षेत्र में सफलता प्राप्त करने के लिए आपको अपने प्रोफेशन से संबंधी रत्न धारण करना चाहिए। ऐसा करने पर आपको अपने नौकरी-पेशा जिदंगी में सहज ही सफलता मिलने लगेगी।

आइए जानते हैं कि किस प्रोफेशन वाले व्यक्ति को कौनसा रत्न धारण करना चाहिए।

Ruby Stoneमाणिक्य (Ruby)

सरकारी कर्मचारी, राजनेता, फॉरेस्ट विभाग, दवाई व्यापारी, सुनार, ठेकेदार या ह्दय रोग के डॉक्टर इन प्रोफेशन वालों को अपने अनुसार माणिक्य रत्न पहनना चाहिए।

यह भी पढ़ें :  Weight Loss: Best Fruits And Vegetables To Burn Belly Fat

माणिक्य धारण करने के नियम और सावधानियां

  • माणिक्य लाल या गुलाबी रंग का पारदर्शी होना चाहिए।
  • माणिक्य को सोने या तांबे में पहना जाना चाहिए।
  • इसे अनामिका अंगुली या गले में रविवार दोपहर धारण करना चाहिए।
  • माणिक्य के साथ पीला पुखराज पहनना सर्वोत्तम रहता हैं।
  • इसके साथ हीरा, ओपल, नीलम व गोमेद न पहनें।

Pearlमोती (Pearl)

चांदी का बिजनेस करने वाले, मनोचिकित्सक, पानी से संबंधित व्यवसायी या उद्योग वाले, ट्रेवल एजेंट, प्लास्टिक व्यापारी, फूड प्रोडक्ट्स वाले, स्त्री रोग विशेषज्ञ, चावल, धान के व्यापारी है तो आपको मोती पहनना चाहिए।

यह भी पढ़ें : घर में चाहिए सुख-समृद्धि व खुशहाली, तो आज ही लगाइए फिश एक्वेरियम

मोती धारण करने के नियम और सावधानियां

  • मोती चांदी की अंगूठी में जड़वा कर धारण करें।
  • मोती 8 से 15 रत्ती का होना चाहिए।
  • इस अंगूठी को अपनी कनिष्ठिका अंगुली में सोमवार के दिन धारण करना चाहिए।
  • अंगूठी धारण करने से एक रात पहले अंगूठी को दूध, गंगाजल, शहद, चीनी के मिश्रण में डालकर रात भर रखें।
  • अगले दिन पांच अगरबत्ती चंद्रदेव को समर्पित करते हुए प्रज्जवलित करें और फिर इस अंगूठी धारण करें।

Coral stoneमूंगा (Coral)

प्रोपर्टीज ब्रोकर, जेंट्स और लेडिज ब्यूटी पार्लर, वकील, कूक, ब्लड बैंक में काम करने वाले, सर्जन, धारदार वस्तुएं और हथियार बनाने वालों को मूंगा रत्न शुभकारी है।

यह भी पढ़ें : 5 मंगलवार करें ये उपाय, मिल जाएगी सभी संकटों से मुक्ति

मूंगा धारण करने के नियम और सावधानियां

  • मूंगा हमेशा स्वर्ण या तांबे की अंगूठी में जड़वाकर धारण करना चाहिए।
  • शुक्ल पक्ष के किसी भी मंगलवार को सूर्य उदय के पश्चात धारण किया जा सकता हैं।
  • इससे पहले इस अंगूठी को दूध, गंगाजल, शहद और शक्कर के घोल में कुछ देर के लिए डाल दे।
  • इसके बाद पांच अगरबत्ती से इसकी पूजा कर धारण करें।
  • मूंगा की अंगूठी को हमेशा अनामिका में ही धारण करना चाहिए।
  • मूंगा करीब 3 साल ही पूर्ण प्रभाव देता है उसके बाद निष्क्रिय हो जाता है। निष्क्रिय होने के बाद पुनः नया मूंगा धारण करना चाहिए।

Emeraldपन्ना (Emerald)

बीमा एजेंट, एकाउंटेंट, दलाल, कमीशन एजेंट, लेखक, प्रकाशक, अध्यापक, इंजीनियर, कोरियर सर्विस, बैंक कर्मचारियों के लिए पन्ना रत्न मंगलकारी सिद्ध होगा।

यह भी पढ़ें : नौकरी की तलाश में हो, तो अपनाएं ये vastu tips, जल्द मिलेगी जॉब

पन्ना धारण करने के नियम और सावधानियां

  • पन्ना रत्न को सोने में जड़वाकर पहना जाना चाहिए।
  • रत्न कम से कम 3 रत्ती का होना चाहिए और उससे अधिक हो तो और भी अच्छा रहेगा।
  • पन्ना की अंगूठी शुक्ल पक्ष के बुधवार को सूर्योदय से 10 बजे तक धारण की जा सकती है।
  • पन्ना रत्न धारण करने के एक माह बाद से प्रभाव देना प्रारंभ करता है।

यह भी पढ़ें : ये पौधा चुम्बक की तरह आकर्षित करता है पैसे को, एक बार आजमाकर देखिए

topaz stoneपुखराज (Topaz)

शिक्षा से जुड़ें लोग, जज, ज्योतिषी, धर्म शिक्षक, मैनेजमेंट का काम करने वाले, कंसल्टेंट्स इन सबके लिए पुखराज उचित रत्न हैं।

यह भी पढ़ें : कम पूंजी से शुरू करें ये 10 बिज़नेस, पाएं हर महीने लाखों रूपए कमाने का मौका

पुखराज धारण करने के नियम और सावधानियां

  • पुखराज रत्न को गुरुवार के दिन तर्जनी अंगुली में धारण करनी चाहिए।
  • पुखराज रत्‍न को सोने की धातु में धारण करना सबसे उत्तम माना जाता है किंतु अगर आप सोने की धातु में इस रत्‍न को नहीं जड़वा सकते तो इसे चांदी या पंचधातु में भी धारण किया जा सकता है।
  • पुखराज के साथ कभी भी हीरा, नीलम, गोमेद और लहसुनिया धारण नहीं करना चाहिए।
  • गंदा, टूटा और अजीब सा पुखराज कभी नहीं खरीदना व पहनना चाहिए।

Diamondहीरा (Diamond)

इलेक्ट्रॉनिक्स का काम करने वाले, फिल्म, टीवी, नाटक और फोटोग्राफर, विज्ञापन मॉडलिंग, फूलों के व्यापारी, आर्किटेक्ट, इत्र एवं सुगंधित द्रव्य, सौंदर्य प्रसाधन के व्यवसायी या उद्योगपति आदि लोगों को हीरा धारण करना चाहिए।

हीरा धारण करने के नियम और सावधानियां

  • केवल फैशन और दिखावे के लिए हीरा न पहनें।
  • डायबिटिज या रक्त से जुड़ी समस्या हो तो भी हीरा न पहनें।
  • किसी भी व्यक्ति को 21 साल के बाद और 50 साल के पहले ही हीरा पहनना अच्छा होता है।
  • हीरा पहनने से शादीशुदा जिंदगी में समस्याएं अचानक बढ़ सकती हैं।
  • हीरा जितना ज्यादा सफेद हो उतना ही अच्छा होता है।
  • दाग वाला या टूटा हुआ हीरा अपयश या दुर्घटना की वजह बन सकता है।
  • हीरे के साथ मूंगा या गोमेद नहीं पहनें. ऐसा करने से चरित्र खराब होता है।

पेशे के अनुसार पहनें रत्न, जल्दी मिलेगी सफलता

Also Read:

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज और ट्विटर पर फॉलो करें

इस खबर को शेयर करें

Leave a comment