इस राशि के लोगों का भाग्योदय होता है शादी के बाद, आता है अच्छा समय

    - Advertisement -

    जिन लोगों के नाम का पहला अक्षर ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे या डो होता है, वे कर्क राशि के होते हैं। कर्क राशि चक्र की चौथी राशि है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कर्क राशि वाले व्यक्ति रिश्तों के प्रति ईमानदार होते हैं और जिम्मेदारी के साथ सभी कर्तव्य निभाते हैं। कई बार इनके वैवाहिक जीवन में माता-पिता के हस्तक्षेप की वजह से कुछ परेशानियां उत्पन्न हो जाती हैं। ये अपने जीवन साथी या प्रेमी की भावनाओं की कद्र करते हैं। सामान्यत: कर्क राशि के लोगों का भाग्योदय विवाह के बाद हो सकता है।

    यहां जानिए कर्क राशि के लोगों की कुछ और विशेषताएं हैं…

    विवाह के बाद आते हैं कई परिवर्तन

    सामान्यत: इस राशि के लोगों के जीवन में विवाह के बाद काफी परिवर्तन आ जाते हैं। ऐसा भी कहा जा सकता है कि अधिकांश कर्क राशि वालों का भाग्योदय ही शादी के बाद होता है, तो गलत नहीं होगा। भाग्योदय का अर्थ है कि इन्हें विवाह के बाद भौतिक सुख-सुविधाओं के साथ ही जीवन के सभी सुख प्राप्त होने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। धन संबंधी लाभ प्राप्त हो सकते हैं, कार्यों में कम मेहनत के बाद भी बड़ी उपलब्धियां हासिल हो सकती हैं।

    इनके विचार और निर्णय बदलते रहते हैं…

    इस राशि के अधिकांश लोगों में निर्णय लेने की क्षमता ज्यादा अच्छी नहीं होती है। इनका दिमाग स्थिर नहीं रहता है। समय-समय पर विचार और निर्णय बदलते रहते हैं। एक साथ बहुत कुछ सोचने के कारण कई बार ये लोग ठीक से निर्णय नहीं ले पाते हैं। इनके लिए अपना परिवार ही सबसे अधिक महत्व रखता है।

    कर्क राशि का परिचय

    इस राशि का चिह्न केकड़ा है और यह उत्तर दिशा का प्रतीक है। इस राशि का स्वामी चन्द्रमा है। इसके अन्तर्गत पुनर्वसु नक्षत्र का अन्तिम चरण, पुष्य नक्षत्र के चारों चरण तथा अश्लेशा नक्षत्र के चारों चरण आते हैं। इस राशि को इंग्लिश में Cancer कहा जाता है।

    शनि-सूर्य का असर

    इस राशि के लोगों की कुंडली में यदि शनि और सूर्य शुभ ना हो तो शनि-सूर्य व्यक्ति को मानसिक रूप से अस्थिर बनाते हैं और व्यक्ति में अहं की भावना को बढ़ाते हैं। जिस स्थान पर भी ये लोग कार्य करने की इच्छा करते हैं, वहां इन्हें परेशानियों को सामना करना पड़ सकता है।

    शनि-बुध और शुक्र का असर

    यदि इनकी कुंडली में शनि-बुध एक साथ स्थित होते हैं तो व्यक्ति समझदार होता है। शनि-शुक्र की युति व्यक्ति को धन और जायदाद प्रदान करती है। शुक्र उसे सजाने-संवारने की कला में पारंगत बनाता है और शनि अधिक कामुक बनाता है। कर्क राशि के लोग कम्प्यूटर आदि क्षेत्र में सफलता प्राप्त करते हैं।

    ये लोग आसानी से नहीं छोड़ते किसी प्रिय चीज को

    जिस प्रकार केकड़ा किसी वस्तु या जीव को अपने पंजों के जकड़ लेता है और उसे आसानी से छोड़ता नहीं है। भले ही इसके लिए उसे अपने पंजे गंवाने पडें। ठीक इसी प्रकार का स्वभाव इस राशि के लोगों का भी होता है। ये लोग जिस काम के पीछे पड़ जाते हैं, उसे पूरा अवश्य करते हैं। इन लोगों में अपने प्रेम पात्र तथा विचारों से चिपके रहने की प्रबल भावना होती है। यह भावना इन्हें ग्रहणशील, एकाग्रता और धैर्य के गुण प्रदान करती है।

    परिश्रमी होते हैं ये लोग

    ये लोग सपने अधिक देखते हैं और परिश्रमी भी होते हैं। इस राशि के लोग बचपन में प्राय: दुर्बल होते हैं, किन्तु आयु के साथ-साथ इनके शरीर का विकास होता जाता है। इन लोगों को अपने भोजन पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता होती है, क्योंकि इनके शरीर पर स्वास्थ्य संबंधी मामलों में वातावरण और खान-पान का बुरा असर जल्दी होता है।

    Also Read :

    ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. NewsPost.in पर विस्तार से पढ़ें देश की अन्य ताजा-तरीन खबरें

    - Advertisement -
    News Posthttps://www.newspost.in
    हिन्दी समाचार, News in Hindi, हिन्दी न्यूज़, ताजा समाचार, राशिफल, News Trend. हिन्दी समाचार, Latest News in Hindi, न्यूज़, Samachar in Hindi, News Trend, Hindi News, Trend News, trending news, Political News, आज का राशिफल, Aaj Ka Rashifal, News Today

    Latest news

    - Advertisement -

    Related news

    - Advertisement -

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    ollhmtn05epenfp1yuply4cg5bx3sd