Vaishno Devi : वैष्णो देवी मंदिर में भगदड़ से 15 श्रद्धालुओं की मौत, कई घायल, इन हेल्पलाइन नंबर पर ले जानकारी

    - Advertisement -

    Vaishno Devi: नए साल (New Year) के मौके पर जम्मू कश्मीर में स्थित माता वैष्णो देवी मंदिर में भगदड़ से करीब 15 श्रद्धालुओं की मौत हो गई। जबकि अनेक श्रद्धालु घायल हो गए। घायलों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। नए साल पर माता के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं की काफी भीड़ जमा थी। शनिवार रात 2 बजकर 45 मिनट पर अचानक भगदड़ मच गई। जिसमें 15 लोगों की मौत हो गई। जबकि 25 लोग घायल बताए जा रहे हैं। फिलहाल राहत और बचाव कार्य जारी है। दुर्घटना के तुरंत बाद यात्रा पर रोक लगा दी गई थी। लेकिन हालात सामान्य होने पर शनिवार सुबह फिर से यात्रा शुरू करवा दी गई है। बताया जा रहा है कि घटना त्रिकुटा पर्वत पर स्थित मंदिर के गर्भगृह के बाहर गेट नंबर तीन के पास हुई है।

    पुलिस अधिकारियों ने बताया कि नए साल के मौके पर भारी संख्या में लोग माता के दर्शन करने पहुंचे हुए थे। तभी ये हादसा हो गया। मामले की उच्च स्तरीय जांच के आदेश दे दिए गए हैं। जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने मामले में गृहमंत्री अमित शाह से बात की है। भगदड़ कैसे मची इसे लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं। जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया, ‘कटरा के माता वैष्णो देवी भवन में मची भगदड़ में 15 लोगों की मौत हुई है। प्रारंभिक रिपोर्टों के अनुसार कुछ लोगों के बीच किसी बात पर बहस हुई थी, जिसके परिणामस्वरूप लोगों ने एक-दूसरे को धक्का दिया और फिर भगदड़ मच गई।

    यह भी पढ़ें : Calendar 2022: आपकी तरक्की में बाधा है घर में लगे पुराने कैलेंडर, जानिए कैलेंडर लगाने की सही दिशा

    गाजियाबाद से पहुंचे चश्मदीद ने बताया कि कुछ लोग दर्शन करने के बाद भी मंदिर परिसर में रुके हुए थे, जिसके कारण भीड़ काफी ज्यादा बढ़ गई। लोगों को बाहर निकलने तक के लिए जगह नहीं मिल पा रही थी। छोड़ी सी जगह में ही बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे। चश्मदीद ने कहा कि कहीं ना कहीं चूक हुई है। अगर लोगों को पहले ही रोक दिया जाता, तो हालात इतने नहीं बिगड़ते। उन्होंने इस खौफनाक मंजर के बारे में बताते हुए कहा कि भीड़ इतनी ज्यादा थी कि वह खुद दर्शन नहीं कर सके।

    पीएम मोदी ने घटना पर दुख जताया

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घटना पर दुख जताया है और मृतकों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है। गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने बताया, जम्मू के कटरा में माता वैष्णो देवी में मची भगदड़ के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं। कटरा के नारायणा अस्पताल में 13 घायल भर्ती हैं। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ram Nath Kovind) ने कहा, यह जानकर बहुत दुख हुआ कि माता वैष्णो देवी भवन में एक दुर्भाग्यपूर्ण भगदड़ ने भक्तों की जान ले ली। शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी संवेदना है। मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं। केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह स्थिति का जायजा लेने के लिए कटरा के लिए रवाना हो गए है।

    यह भी पढ़ें : Steve Jobs : जानिए Apple के संस्थापक स्टीव जाॅब्स की सफलता का मूल मंत्र

    मुआवजे का ऐलान किया गया

    जम्मू-कश्मीर एलजी (Jammu Kashmir LG) मनोज सिन्हा ने कहा, कटरा में माता वैष्णो देवी भवन में भगदड़ में मारे गए लोगों के परिजनों को 10 लाख रुपए और घायलों को 2 लाख रुपए की अनुग्रह राशि दी जाएगी। पीएमओ की तरफ से ट्वीट कर बताया गया है, भगदड़ में जान गंवाने वालों के परिजनों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से 2-2 लाख रुपए की अनुग्रह राशि दी जाएगी और घायलों को 50,000 रुपए दिए जाएंगे।

    मदद के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी

    जम्मू-कश्मीर के एलजी कार्यालय ने बताया कि श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड (Vaishno Mata Shrine Board) ने 01991-234804, 01991-234053 हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं। इसके अलावा अन्य हेल्पलाइन नंबर हैं- पीसीआर कटरा- 01991232010/ 9419145182, पीसीआर रियासी- 0199145076/ 9622856295, डीसी कार्यालय रियासी कंट्रोल रूम- 01991245763/ 9419839557 पर भी संपर्क किया जा सकता है।

    - Advertisement -
    News Posthttps://www.newspost.in
    हिन्दी समाचार, News in Hindi, हिन्दी न्यूज़, ताजा समाचार, राशिफल, News Trend. हिन्दी समाचार, Latest News in Hindi, न्यूज़, Samachar in Hindi, News Trend, Hindi News, Trend News, trending news, Political News, आज का राशिफल, Aaj Ka Rashifal, News Today

    Latest news

    - Advertisement -

    Related news

    - Advertisement -

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    ollhmtn05epenfp1yuply4cg5bx3sd