Home देश खास खबर Gigolo Market in Delhi : जहां हर रात मर्दों के जिस्म की...

Gigolo Market in Delhi : जहां हर रात मर्दों के जिस्म की बोली लगाती हैं रईस घर की औरतें

403
Gigolo-Market

Gigolo Market in Delhi: देश की राजधानी दिल्ली सहित मुंबई, कोलकत्ता, बंगलौर, जयपुर व गुड़गांव में मर्दों की जिस्म यानी Gigolo Market तेजी से फैलता जा रहा हैं। मर्दों के इस जिस्म के कारोबार ने तेजी से पावं पसारने शुरू कर दिए है। आपके मन में Gigolo Market को लेकर कुछ सवाल उठे रहे होंगे। आपके सभी सवालों के जवाब आपको Gigolo Market in Delhi की इस खबर में मिल जाएंगे।

दिल्ली के जिगोलो मार्केट की बात करें तो यह देश में ही नहीं बल्कि विदेशों तक प्रसिद्व है। दिल्ली के कई VVIP इलाकों में रात 10 बजते शुरू होता है मर्दों की जिस्म की बोली का खेल। महंगी गाड़ियों में रईस औरतें यहां आती है और मनपसंद मर्द से रेट फिक्स कर उसे अपनी गाड़ी में बैठा ले जाती है।

दिल्ली में जिगोलो मार्केट नामक मर्दो के जिस्म की यह मंडी रात 10 बजे से सुबह 4 बजे तक सजती हैं। राजधानी के सरोजनी नगर, लाजपत नगर, पालिका मार्केट और कमला नगर मार्केट समेत कई इलाकों में रात्रि को सड़क किनारे जिस्म बेचने वाले युवा देखे जा सकते हैं। दिल्ली के इस मार्केट में अमीर घरों की महिलाएं आकर मर्दों की बोली लगाती है।

Gigolo Market in Delhi कब सजता है

दिल्ली का जिगोलो मार्केट में खुलेआम युवा अपने जिस्म का सौदा करते हैं। राजधानी की सड़कें जब सुनसान होती हैं तब यहां इनका बाजार सजता है। खास बात ये है कि युवा जिस्म की खरीददार उन घरानों या इलाकों की महिलाएं होती हैं जिन्हें आम बोलचाल में संभ्रांत कहा जाता है और इनके इलाकों को पॉश।

पब, डिस्को और कॉफी हाउस में भी होता है सौदा

जिगोलों को बुक करने का काम हाईफाई क्लब, पब और कॉफी हाउस में भी होता है। कुछ घंटों के लिए Gigolo की बुकिंग 3 से 8 हजार रुपए और पूरी रात के लिए 10000 रुपये तक में होती है। इसके अलावा युवाओं के गठीले और सिक्स पैक ऐब्स के हिसाब से 20 हजा रूपए तक कीमत दी जाती है।

कॉरपोरेट जगत की तरह होता है काम

युवाओं के जिस्म के सौदेबाजी का काम बेहद प्लानिंग से होता है। यही वजह है कि कमाई का 20 प्रतिशत हिस्सा इन्हें अपनी संस्था को देना होता है। जिनसे ये जुड़े हुए हैं। कारोबार को दिल्ली के कई युवा अपना प्रोफेशन बना चुके हैं तो कई अपनी लक्जरी जरूरतों की पूर्ति के लिए इस दलदल में फंस रहे हैं। इनमें इंजीनियरिंग और मेडिकल की तैयारी करने वाले छात्र सबसे ज्यादा हैं।

Where is Gigolo Market in Delhi

युवा जिस्म का यह बाजार रात 10 बजे से सुबह 4 बजे के बीच सजता है। युवा पॉश इलाकों और साऊथ एक्सटेंसन, जेएनयू रोड, आईएनए, अंसल प्लाजा, कनॉट प्लेस, जनकपुरी डिस्ट्रिक सेंटर जैसे प्रमुख बाजारों की मुख्य सड़कों पर खड़े हो जाते हैं। यहां गाड़ी रुकती है, जिगोलो बैठता है और सौदा तय होते ही गाड़ी चल देती है। जिगोलो की डिमांड उसके गले में बंधे पट्टे पर निर्भर करती है। आप सुनकर दंग रह जाएंगे कि गले में बंधा पट्टा जिगोलो के लिंग की लंबाई दर्शाता है।

साउथ दिल्ली के बड़े होटलों से भी मिलते है Gigolo

इसके आलावा साउथ दिल्ली के कई जाने-माने होटलों में भी यह धंधा जमकर फलफूल रहा है। मगर यहां जिगोलो की पहचान गले में पहने पटटे से नहीं बल्कि ड्रेस से होती है। दरअसल साउथ दिल्ली के कई होटलों में जिगोलो के हाथ में लाल रुमाल और गले में पटटे की बजाय काली पतलून और सफ़ेद शर्ट पहचान होती है। सूत्रों के मुताबिक जिगोलो इन होटलों के रेस्तरां में बैठकर काफी की चुस्कियां लेते हुए अपने ग्राहक की तलाश करते है।

How to become Gigolo?

How to become Gigolo in Delhi: आज का हर युवा तेजी से पैसा कमाना चाहता है। कुछ अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए तो कुछ अपने महंगे शौक को पूरा करने के लिए। ऐसे में जिगोलो मार्केट उन्हें आकर्षित किए बिना नहीं रहता है। जहां रात के अंधेरे में हर महीने लाखों रूपए आसानी से कमाया जा सकता हैं। जिगोलो के बारे में कहा जाता हैं कि पाना जितना आसान है उतना ही मुश्किल है जिगोलो बनना।

लेकिन आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि युवा किस रास्ते से जिगोलो मार्केट में एंट्री कर रहे हैं। जिगोलो बनने की चाह रखने वाले युवा बड़े-बड़े होटल, रेस्तरा व पब में इंवेट मैनेजर से संपर्क बनाते हैं। इन जगह अमीर घरों की महिलाओं की पार्टियां आए दिन होती हैं। ऐसे में इंवेंट मैनेजर इन पार्टियों में मौज-मस्ती के लिए जिगोलो को भी बुलाते है। अक्सर इन पार्टियों में नए जिगोलो को प्रदर्शित कर उसका प्रमोशन भी किया जाता है।